रासायनिक अभिक्रिया और समीकरण

NCERT पुस्तक के पाठ के प्रश्नों के उत्तर

प्रश्न उत्तर

प्रश्न1:मैग्नीशियम के फीते को हवा में दहन करने से पहले साफ क्यों किया जाता है?

उत्तर:मैग्नीशियम की प्रवृत्ति होती है कि वह ऑक्सीजन से अभिक्रिया करता है। इसके फलस्वरूप मैग्नीशियम के ऊपर ऑक्साइड की एक परत बन जाती है। इस परत को साफ करना जरूरी होता है ताकि मैग्नीशियम का दहन सही तरीके से हो सके।

प्रश्न2:निम्नलिखित रासायनिक प्रतिक्रियाओं के लिये संतुलित समीकरण लिखें:

प्रश्न(a):हाइड्रोजन + क्लोरीन ⇨ हाइड्रोजन क्लोराइड

उत्तर:H2 + Cl2 ⇨ 2HCl

प्रश्न(b):बेरियम क्लोराइड + अलमुनियम सल्फेट ⇨ बेरियम सल्फेट + अलमुनियम क्लोराइड

उत्तर:3BaCl+ Al2(SO4 )3 ⇨ 3BaSO4 + 2AlCl3

प्रश्न(c):सोडियम + वाटर ⇨ सोडियम हाइड्रॉक्साइड + हाइड्रोजन

उत्तर:2Na + 2H2O ⇨ 2NaOH + H2

प्रश्न3:निम्नलिखित रासायनिक प्रतिक्रियाओं के लिये संतुलित समीकरण लिखें जिसमें भौतिक अवस्था भी दर्शाएँ:

प्रश्न(a):जल में बेरियम क्लोराइड और सोडियम सल्फेट के विलयन अभिक्रिया करके बेरियम सल्फेट और सोडियम क्लोराइड का निर्माण करते हैं।

उत्तर: BaCl2 (aq) + Na2SO4 ⇨ BaSO4 (s) + 2NaCl (aq)

प्रश्न(b):सोडियम हाइड्रॉक्साइड और हाइड्रोक्लोरिक अम्ल के जलीय विलयन अभिक्रिया करके सोडियम क्लोराइड और जल का निर्माण करते हैं।

उत्तर: NaOH (aq) + HCl ⇨ NaCl (aq) + H2O (l)


प्रश्न4:किसी पदार्थ ‘X’ के विलयन का इस्तेमाल पुताई के लिये होता है।

प्रश्न(a):पदार्थ ‘X’ का नाम और फॉर्मूला लिखें। Name the substance ‘X’ and write its formula.

उत्तर: कली चूना और बुझा चूना

प्रश्न(b):पदार्थ ‘X’ और जल के बीच होने वाली अभिक्रिया के लिये समीकरण लिखें।

उत्तर: CaO(s) + H2O(l) ⇨ Ca(OH)2 (aq)

प्रश्न5:जल के विद्युतीय वियोजन वाली गतिविधि में एक टेस्ट ट्यूब पर एकत्रित गैस की मात्रा दूसरे टेस्ट ट्यूब पर एकत्रित होने वाली गैस के आयतन से दोगुनी क्यों होती है। दोगुनी एकत्रित होने वाली गैस का नाम बताएँ।

उत्तर: जल के अणु में हाइड्रोजन और ऑक्सीजन के परमाणुओं का अनुपात 2:1 होता है। इसका मतलब यह है कि ऑक्सीजन के प्रत्येक अणु के लिये हाइड्रोजन के दो अणु होते हैं। इसलिये जल के विद्युतीय विघटन के बाद एकत्रित होने वाली हाइड्रोजन गैस की मात्रा ऑक्सीजन गैस के आयतन का दोगुना होता है।

प्रश्न6:कॉपर सल्फेट के विलयन में लोहे की कील रखी जाती है तो कॉपर सल्फेट के विलयन का रंग क्यों बदल जाता है?

उत्तर: जब कॉपर सल्फेट के विलयन में लोहे की कील रखी जाती है तो कॉपर सल्फेट का नीला रंग बदल कर हल्का हरा हो जाता है। ऐसा फेरस सल्फेट के निर्माण के कारण होता है। लोहे की कील पर भूरी परत के रूप में कॉपर प्राप्त होता है।

CuSO4 (aq) + Fe (s) ⇨ FeSO4 (aq) + Cu (s)


प्रश्न7:इस पुस्तक में ऐक्टिविटी 1.10 में दी गई प्रतिक्रिया को छोड़कर द्वि-विस्थापन अभिक्रिया का कोई अन्य उदाहरण बताएँ।

उत्तर:जब लेड नाइट्रेट के विलयन को पोटाशियम आयोडाइड के विलयन के साथ मिलाया जाता है तो लेड आयोडाइड का पीला अवक्षेप बनता है।

Pb(NO3)2 (aq) + 2KI (aq) ⇨ PbI2 (s) + 2KNO3 (s)

प्रश्न8:नीचे दी गई अभिक्रियाओं में ऑक्सीकृत और अवकृत होने वाले पदार्थों को पहचानें।

प्रश्न(a):4Na (s) + O2 (g) ⇨ 2Na2O (s)

उत्तर: सोडियम का ऑक्सीजन से संयोजन हो रहा है इसलिये सोडियम का ऑक्सीकरण हो रहा है। ऑक्सीजन का संयोजन एक धातु के साथ हो रहा है इसलिये ऑक्सीजन का अवकरण हो रहा है।

प्रश्न1(b):CuO (s) + H2 (g) ⇨ Cu (s) + H2O (l)

उत्तर: कॉपर ऑक्साइड से ऑक्सीजन अलग हो रहा है इसलिये कॉपर ऑक्साइड का अवकरण हो रहा है। हाइड्रोजन से ऑक्सीजन का संयोजन हो रहा है इसलिये हाइड्रोजन का ऑक्सीकरण हो रहा है।


Copyright © excellup 2014